रविवार, 25 अप्रैल 2010

खेल के सही गुर तो कोच ही बताएंगे: चौहान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सितारे राजेश चौहान ने आज यहां पर सेकरसा के क्रिकेट प्रशिक्षण शिविर में खिलाडिय़ों से कहा कि मैं तो आप लोगों के बीच कुछ समय के लिए ही आया हूं। मैं आप लोगों को ज्यादा क्या बता पाऊंगा। आप लोगों को खेल के सही गुर तो आपके कोच ही बताएंगे। प्रशिक्षण शिविर में इस पूर्व अंतररराष्ट्रीय खिलाड़ी को अपने बीच पाकर छोटे-बड़े खिलाड़ी बहुत ज्यादा खुश हुए और इन्होंने आटोग्राफ भी लिए।
दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे खेल संघ द्वारा रेलवे के मैदान में क्रिकेट का प्रशिक्षण शिविर चलाया जा रहा है। इस शिविर में खिलाडिय़ों का उत्साह बढ़ाने के लिए छत्तीसगढ़ के पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर राजेश चौहान को बुलाया गया। श्री चौहान ने खिलाडिय़ों के बीच एक घंटे के समय में कुछ तकनीकी जानकारी देने के साथ खिलाडिय़ों के सवालों के जवाब भी दिए। उन्होंने खिलाडिय़ों से साफ शब्दों में कहा कि मैं तो आप लोगों का यहां पर उत्साह बढ़ाने के लिए आया हूं। मुङो मालूम है कि आप लोगों मुङासे एक घंटे के समय में ज्यादा कुछ नहीं सीख सकते हैं। आपको अपने कोच के बताए रास्ते पर चलना चाहिए। आपके कोच ही आप लोगों को सही तरीके से निखारने का काम कर सकते हैं। एक छोटे से खिलाड़ी ने श्री चौहान से पूछा कि वे स्पिन गेंदबाजी करें या मध्यम तेज गति की गेंदबाजी करें। श्री चौहान ने इस खिलाड़ी से दोनों तरह की गेंदबाजी करवाने के बाद उसको सलाह दी कि तुम्हारे लिए मध्यम तेज गेंदबाजी ही ठीक रहेगी। स्पिन गेंदबाजी तो तुम बाद में भी कर सकते हो। इसी के साथ श्री चौहाने ने खिलाडिय़ों की और समस्याओं का समाधान किया।
शिविर के छोटे-बड़े खिलाड़ी श्री चौहान को अपने बीच पाकर काफी खुश हुए। कई खिलाडिय़ों ने उनसे आटोग्राफ भी लिए। खिलाडिय़ों ने श्री चौहान से कहा भी कि वे भी उनकी तरह अपने देश के लिए खेलना चाहते हैं।
शिविर के प्रशिक्षक स्वर्ण सिंह कलसी ने बताया कि शिविर में इस समय ७० खिलाड़ी आ रहे हैं जिनमें ८ बालिका खिलाड़ी भी हैं। इसी के साथ ५ बच्चे धरसीवां, दो माना के भी हैं। उन्होंने बताया कि शिविर में राजेश चौहान के बाद आईपीएल में खेलने वाले दल्ली राजहरा के हरप्रीत सिंह भाटिया को बुलाया जाएगा। इसी के साथ समापन में रेलवे टीम के कप्तान रणजी खिलाड़ी संजय बागर को बुलाने की योजना है। शिविर में खिलाडिय़ों को निखारने का काम स्वर्ण सिंह कलसी के साथ विजय नायडु, मुजाहिक हक के शांतुन घोष कर रहे हैं।

2 टिप्‍पणियां:

Hindiblog Jagat ने कहा…

ब्लौगर बंधु, हिंदी में हजारों ब्लौग बन चुके हैं और एग्रीगेटरों द्वारा रोज़ सैकड़ों पोस्टें दिखाई जा रही हैं. लेकिन इनमें से कितनी पोस्टें वाकई पढने लायक हैं?
हिंदीब्लौगजगत हिंदी के अच्छे ब्लौगों की उत्तम प्रविष्टियों को एक स्थान पर बिना किसी पसंद-नापसंद के संकलित करने का एक मानवीय प्रयास है.
हिंदीब्लौगजगत में किसी ब्लौग को शामिल करने का एकमात्र आधार उसका सुरूचिपूर्ण और पठनीय होना है.
कृपया हिंदीब्लौगजगत को एक बार ज़रूर देखें : http://hindiblogjagat.blogspot.com/

chhattisgsrh post ने कहा…

jai ho...

हिन्दी में लिखें

खेलगढ़ Headline Animator

खेलगढ़ की चर्चा हिन्दुस्तान में