सोमवार, 1 मार्च 2010

सांसद निधि से बनेगी खेल विभाग की लायब्रेरी

प्रदेश के खेल एवं युवा कल्याण विभाग की लायब्रेरी बनाने की तैयारी प्रारंभ हो गई है। यह लायब्रेरी रायपुर के सांसद रमेश बैस की सासंद निधि से बनेगी। सासंद निधि से लायब्रेरी के लिए दस लाख की राशि दे दी गई है।
यह जानकारी देते हुए खेल संचालक जीपी सिंह ने बताया कि विभाग प्रदेश में खेलों के विकास की दिशा में कई योजनाओं पर काम कर रहा है। ऐसे में जबकि हर खेल में नई-नई तकनीक आती जा रही हैं तोयह जरूरी हो गया है कि खिलाडिय़ों को इन तकनीक के बारे में जानकारी मिल सके। प्रदेश में कहीं भी खिलाडिय़ों के लिए ऐसी कोई लायब्रेरी नहीं है जिससे खिलाड़ी जाकर वहां कुछ पढ़कर सीख सके। ऐसे में खेल विभाग ने यह फैसला किया कि क्यों न विभाग एक आधुनिक लायब्रेरीकी स्थापना करे। इसके लिए विभाग को रायपुर के सांसद रमेश बैस से सांसद निधि से दस लाख की राशि मिल गई है।
यहां यह बताना लाजिमी होगा कि रमेश बैस कीस भी खेलों में विशेष रूचि हैं। वे प्रदेश तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष हैं और यहां पर दो बार राष्ट्रीय तीरंदाजी स्पर्धा का आयोजन करवा चुके हैं।
श्री सिंह ने बताया कि लायब्रेरी को ज्यादा से ज्यादा आधुनिक बनाने के प्रयास होंगे। खेलों की वीडियों रिकार्डिंग से लेकर और जो भी सुविधाएं ििखलाड़ी चाहेंगे उनको इस लायब्रेरी में मिलेगी। उन्होंने उम्मीद जतार्ई कि इस लायब्रेरी के बनने के बाद खिलाडिय़ों को नई तकनीक की जानकारी के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। वैसे खेल विभाग न्ने काफी समय से खेलों से संबंधित कई पुस्तकों का संकलन करना प्रारंभ कर दिया है। लायब्रेरी में हर खेल से संबंधित जानकारी उपलब्ध होगी।

2 टिप्‍पणियां:

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

बढ़िया प्रस्तुति ...
होली पर्व पर शुभकामनाये और बधाई .

शरद कोकास ने कहा…

पुस्तकालय तो हर हाल मे बनना ही चाहिये क्योंकि सडको और नालियो से नही शहर का विकास पुस्तकालय से जाना जाता है ।

हिन्दी में लिखें

खेलगढ़ Headline Animator

खेलगढ़ की चर्चा हिन्दुस्तान में